अमित मिश्रा, वरुण चक्रवर्ती, रिद्धिमान साहा, माइक हसी, लक्ष्मीपति बालाजी जैसे कई खिलाड़ी और कोच के कोरोना संक्रमित हो जाने के कारण IPL-2021 को स्थगित कर दिया गया है। इसके साथ ही अक्टूबर-नवंबर में भारत में होने वाला टी-20 वर्ल्ड कप भी खतरे में आ गया है। माना जा रहा है कि BCCI इन दोनों टूर्नामेंट को सितंबर से लेकर नवंबर तक UAE में आयोजित कराने की कोशिश में लगा है।पहले IPL फिर वर्ल्ड कप
भारतीय क्रिकेट बोर्ड के लिए सितंबर से पहले IPL-2021 के बचे हुए 31 मुकाबलों का आयोजन संभव नहीं जान पड़ रहा है। 14 सितंबर को इंग्लैंड के खिलाफ इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज समाप्त होने के बाद इसकी कोशिश की जा रही है। चूकि भारत और इंग्लैंड के खिलाड़ी इंग्लैंड में बायो बबल में ही होंगे, लिहाजा उनके लिए UAE में एक नए बायो बबल में जुड़ना मुश्किल नहीं होगा। ऐसे में भारतीय बोर्ड 25 सितंबर के आस-पास से लेकर अक्टूबर के दूसरे सप्ताह तक मिले विंडो में IPL का आयोजन की कोशिश में लगा है।वर्ल्ड कप के लिए सभी टीमों को आना है
वर्ल्ड कप का आयोजन भारत की जगह अगर UAE में होता है तो इसकी घोषणा अगले कुछ दिनों में ही हो सकती है। ऐसे में दुनियाभर की तमाम टीमों के खिलाड़ियों का अक्टूबर में UAE आना तय हो जाएगा। भारतीय बोर्ड की कोशिश होगी कि IPL से जुड़े विदेशी खिलाड़ियों को पहले ही UAE बुला लिया जाए ताकि वे लीग खेलने के बाद वर्ल्ड कप में अपनी-अपनी नेशनल टीम का हिस्सा बन सकें। साथ ही जो खिलाड़ी वर्ल्ड कप में शामिल नहीं होंगे वे अपने-अपने देश लौट सकेंगे।

भारत में नवंबर में तीसरी लहर की आशंका
भारत में वर्ल्ड कप की मेजबानी की संभावना इसलिए भी काफी कम हो गई है, क्योंकि नवंबर के आस-पास देश में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका है। साथ ही में देश में बायो बबल का प्रयोग सफल नहीं रहा है लिहाजा अब विदेशी खिलाड़ी कोरोनाकाल में भारत का दौरा नहीं करना चाह रहे हैं। इसके उलट UAE 2020 IPL के दौरान बायो बबल सफल रहे थे।

तब भी BCCI ही होगा मेजबान
वर्ल्ड कप का आयोजन अगर भारत की जगह UAE में होता है तब भी BCCI ही इसकी मेजबानी करेगा। भारतीय बोर्ड और ICC पहले ही इसकी पुष्टि कर चुके हैं। ICC 2020 टी-20 वर्ल्ड कप की मेजबानी ऑस्ट्रेलिया को और 2021 वर्ल्ड कप की मेजबानी भारत को दी थी। ऑस्ट्रेलिया में 2020 वाला वर्ल्ड कप कोरोना के कारण रद्द हो गया। इसे अब 2022 में कराया जाएगा। वहीं, 2021 वर्ल्ड कप की मेजबानी BCCI के पास बरकरार रही है।